खास आपके लिए

[latest][slideshow]

"JL50" देखने के बाद आपका भी "Time Travel" का मन हुआ?

"JL50" देखने के बाद आपका भी "Time Travel" का मन हुआ?
वो हम कभी-कभी कहते हैं न.. कि यार ये नहीं देखा तो क्या देखा.. तो मैं आज आपसे यही बोलूंगी कि सोनी लिव पर जेएल50 नहीं देखा तो क्या देखा..


मतलब फुल टू रहस्य और रोमांच से भरपूर.. सबसे अच्छी बात ये है कि इसमें सारे मेरे फेवरेट कलाकार हैं.. मने कलाकारों को चुन-चुन के लिया गया है.. बोले तो बेहद टैलेंटेड एक्टर्स हैं इसमें.. जैसे अभय देओल, पंकज कपूर, पीयूष मिश्रा, राजेश शर्मा और रीतिका आनंद.. बता दूं कि जेएल50 साइंस फिक्शन स्टोरी है.. जिसमें सस्पेंस और थ्रिल का तड़का लगा है..


इतना बढ़ा-चढ़ा कर बोल ही रही हूं.. तो अब थोड़ी बात करते हैं स्टोरी के बारे में.. जिन्होंने देख ली है वो भी पढ़  लें.. कोई नुकसान नहीं है..


JL50 की कहानी आजकल रिलीज होने वाली वेब सीरीज से बिल्कुल अलग है.. इसकी कहानी एक विमान जिसका नाम जेएल50 है.. के हादसे की जांच के इर्द-गिर्द घूमती है.. 35 साल पहले 1984 में कोलकाता से टेकऑफ होने के बाद रहस्यमयी तरीके से गायब हो गया.. और फिर 2019 में अचानक इसके सुराग मिलते हैं.. फिर सीबीआई टीम इस मामले की जांच करती है तो कई रहस्य बाहर आते हैं.. जो कि टाइम ट्रैवल से भी जुड़े होते हैं.. 


और फिर आते हैं शांतनु, जो कि अभय देओल हैं.. इस मामले की तह तक जाते हैं.. फिर एक शख्स शुभ्रतो दास जो कि पंकज कपूर हैं.. उनके बारे में पता चलता है.. जो कि 35 साल पहले हुए विमान हादसे की जानकारी दे सकते है.. इस वेब सीरीज में राजेश शर्मा अभय देओल की टीम के अहम सदस्य गुरांगो की भूमिका निभा रहे हैं.. सोनी लिव की इस वेब सीरीज की प्रोड्यूसर रीतिका आनंद खुद जेएल 50 में प्रमुख भूमिका में हैं.. रीतिका जेएल 50 की पायलट भीऊ घोष की भूमिका निभा रही है.. वहीं पीयूष मिश्रा जेएल50 में प्रोफेसर मिश्रा की नकारात्मक भूमिका में हैं..


साथ ही साथ कहना पड़ेगा कि जेएल 50 की स्टोरी लाइन और सिनेमैटोग्राफी कमाल की है.. और वेब सीरीज में इतने ट्विस्ट और टर्न हैं.. कि आप एक ही बार में पूरी सीरीज देख लेंगे.. मतलब मैं कह सकती हूं कि देखते वक्त आप खुद को बंधा महसूस करेंगे.. जेएल 50 के जरिये मशहूर एक्टर और थिएटर पर्सनैलिटी पंकज कपूर डिजिटल प्लैटफॉर्म पर डेब्यू कर रहे हैं.. पंकज कपूर को लंबे समय बाद दुनिया देखेगी..


चलो.. कम से कम अब लोग सोनी लिव के कंटेट पर ध्यान देना शुरू करेंगे.. वैसे भी हालिया दौर ओटीटी प्लैटफॉर्म्स का ही है.. ऐसे में अब अगर किसी को मार्केट में टिकना है तो उसे अपने कंटेंट में वेरिएशन के साथ ही क्वॉलिटी पर भी ध्यान देना होगा.. और सोनी लिव लगातार रेस में टिके रहने की कोशिश कर रहा है.. बढ़िया है..


लेकिन यार जब से जेएल50 देखी है  न.. टाइम ट्रैवल करने का मन कर रहा है.. मतलब मुझे भी Past में जाना है.. कुछ चीजें बदलनी हैं.. कुछ होने से रोकना है.. और कुछ अधूरा पूरा करना है..

No comments:

Please do not enter any spam link in the comment

People's Corner

[people][stack]

Travel corner

[travel][grids]

Movie Corner

[movie][btop]