खास आपके लिए

[latest][slideshow]

और #JusticeForCarry ने TikTokers को डस लिया 😆😆

और #JusticeForCarry ने TikTokers को डस लिया 😆😆
Photo Source- Google

कैरीमिनाटी 5 दिन में इतना फेमस हो जाएगा, ये शायद उसको भी नहीं पता था, और उसका एक वीडियो सबसे ज्यादा लाइक्स बटोरने वाला वीडियो बन जाएगा..

वैसे रोस्टिंग कल्चर में कैरी मिनाटी की अपनी एक खास पहचान है.. अगर अपनी बताऊं तो कैरीमिनाटी के बारे में मुझे पहली बार 2016 में पता चला था, एक दिन मैं जब मैं यूट्यूब पर इल्यूमिनाटी के बारे में काफी कुछ जानने की कोशिश कर रही थी.. काफी सारे वीडियो खंगाल रही थी, उसी दौरान सजेस्टिंग वीडियो में कैरीमिनाटी की वीडियो दिखी, मैने वीडियो देखी, और देखने के बाद आपको बता दूं कि अगर मेरी मां वो वीडियो देख लेतीं तो कान में गंगाजल डलवा देंती पक्का.. इतनी गालियां जो भरी पड़ी थीं उसमें..

लेकिन मैंने अपने अंदर पॉजिटिविटी जगाई, और सोचा कि यार बंदा मेहनत कर रहा है.. कमा रहा है.. चोरी डकैती नहीं डाल रहा कम से कम.. बस इसी फीलिंग के साथ मैंने सारे वीडियो देख डाले..

पता नहीं क्यों लेकिन आजकल के यूथ को यही पसंद है. खैर. पिछले एक महीने से दो कम्यूनिटी के बीच जंग छिड़ी हुई है. लड़ाई-झगड़ों वाली जंग नहीं, बल्कि ये जंग है खुद के नाम और पहचान को लेकर. कभी-कभी तो सोचती हूं कितना आसान हो गया है न सेलिब्रिटी बनना. कोई भी आएगा.. टिकटॉक पर आपको डसेगा.. और सेलिब्रिटी बन जाएगा..

खैर.. ये जंग यूट्यूबर्स vs टिकटॉकर्स के बीच है ये तो पता ही चल गया होगा आपको.. अगर आप ट्विटर के  हैशटैग नोटिस करते होंगे तो..

सबसे पहले बता दूं कि इसकी शुरुआत एक रोस्टिंग यूट्यूबर एलविश यादव ने की थी.. इन भाईसाब ने एक वीडियो अपलोड किया, जिसमें उसने कुछ नामी टिकटॉकर्स को रोस्ट किया था. इनमें लड़कियां भी शामिल थीं, उस रोस्ट के बाद कई लोगों ने एलविश यादव की ऐसी-तैसी करनी शुरू की, और सोशल मीडिया में भेड़-बकरियों  की तरह ऐसे ही कई वीडियोज आने लगे..

लेकिन चलो ये सब तो खेल-खेल में चल रहा था, मने कच्ची लोई वाला खेल.. खेल तो तब बढ़ा जब कैरीमिनाटी का नाम इस खेल में जुड़ा..

कैरीमिनाटी ने एक वीडियो अपलोड किया था, जिसमें उन्होंने आमिर सिद्दकी नाम के टिकटॉकर को रोस्ट किया था.. लेकिन मेरे मन में सवाल ये था कि आमिर सिद्दकी ही क्यों ? टिकटॉक में तो और भी तरह-तरह के प्राणी डसते नजर आते हैं..

फिर पता चला कि कैरी के वीडियो अपलोड करने से पहले ही एक टिकटॉकर टीम नवाब के आमिर सिद्दीकी ने एक आईजीटीवी वीडियो अपलोड किया, और उसमें यूट्यूब और टिकटॉक के बीच कई बातों को लेकर तुलना की.. इसमें उन्होंने कई ऐसे ‘फैक्ट्स’ रख दिए जो यूट्यूबर्स और फैंस को पसंद नहीं आए..

लेकिन भाई साब हमारा यूथ इतना मासूम है कि हर बात को दिल पर ले लेता है.. वही हुआ इस मामले ने इतना तूल पकड़ा कि ऐसा लगा देश का एक बड़ा हिस्सा एक-दूसरे के सपोर्ट और विरोध में खड़ा हो गया. .कैरी मिनाटी का वीडियो काफी वायरल हुआ.. और इस वीडियो ने पूरे यूट्यूब को हिला डाला..


इसका अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि वीडियो पर 70 मिलियन से ज्यादा व्यूज और 10 मिलियन से ज्यादा लाइक्स मिले थे.. इसके साथ ही ये वीडियो भारत का सबसे ज्यादा लाइक किए जाने वाला वीडियो बन गया.. लेकिन, टिकटॉकर्स को ये हजम न हुआ, इनकी कम्यूनिटी की तरफ से इस वीडियो पर को लगातार रिपोर्ट किया गया.. और अपलोड होने के 5 दिन बाद यूट्यूब ने वीडियो को ये कहकर हटा दिया कि ये उसकी गाइडलाइंस के खिलाफ है..

इसके बाद से हर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर #JusticeForCarry ट्रेंड कर रहा है.. लेकिन इस एक वीडियो ने कैरी मिनाटी को इतना नेम और फेम दिया कि उसकी उम्मीद शायद कैरी को भी नहीं होगी.. वीडियो अपलोड होने से पहले कैरी मिनाटी के यूटूयूब पर कुल 10.5 मिलियन सब्सक्राइबर थे लेकिन, सिर्फ पांच दिन के अंदर ही उनके सब्सक्राइबर्स की संख्या 16.5 से ज्यादा हो गई..

YUTUBE VS TIK TOK: THE END नाम के वीडियो से कैरी मिनाटी इस वक्त ट्वीटर के टॉप ट्रेंडिंग में शामिल हो चुके हैं.. ऐसे में जाते-जाते जिनको नहीं पका कैरी मिनाटी के बारे में, उनको मोटा-मोटी बता दूं-

कैरीमिनाटी यानि अजय नागर, फरीदाबाद का है..  15 साल की उम्र में ही इन्होंने अपना यूट्यूब चैनल खोला था लेकिन कुछ खास Success नहीं हो पाया था.. लोकिन जब उन्होंने जानेमाने यूट्यूबर भुवन बाम को रोस्ट किया. तब ये फेमस होने लगे थे.. फिर वकार जाका नाम के एक पाकिस्तानी नाग को रोस्ट किया.. और वहां से सिलसिला शुरु हुआ नेम और फेम का जो अभी तक चला आ रहा है..

No comments:

Please do not enter any spam link in the comment

People's Corner

[people][stack]

Travel corner

[travel][grids]

Movie Corner

[movie][btop]

Instagram Feed