खास आपके लिए

[latest][slideshow]

“झुंड नहीं कहिए सर...टीम कहिए...टीम”

ये डायलॉग सुना आपने शहंशाह की आवाज में हैं... 

                       “झुंड नहीं कहिए सर...टीम कहिए...टीम”

ये डायलॉग है फिल्म झुंड का.. जिसका टीजर आ चुका है.. और लोग काफी पसंद कर रहे हैं.. ये फिल्म विजय बरसे की बायोपिक है.. और विजय बरसे का किरदार महानायक अमिताभ बच्चन निभा रहे हैं.. वैसे सुनने में आ रहा है कि मेगा स्टार अमिताभ बच्चन 2020 में फिल्मों की झड़ी लगाने वाले हैं.. फिल्म झुंड 8 मई को रिलीज होगी.. 1 मिनट 12 सेकेंड का ये टीजर काफी इंटरेस्टिंग है.. फिलहाल तो फिल्म में कुछ क्रिटिसाइज करने लायक दिखा नहीं...

झुंड फिल्म विजय बसरे पर बनी है.. तो आईए जानते हैं कि इन्होंने ऐसा कौन सा तीर मारा था जो इनके ऊपर फिल्म बनी है..

विजय बरसे की कहानी काफी दिलचस्प रही है.. "स्लम" सॉकर कहे जाने वाले विजय बरसे साहब एक एनजीओ के फाउंडर हैं.. ये 36 साल तक नागपुर में स्पोर्ट प्रोफेसर रहे हैं.. एक दिन इन्होंने देखा कि स्लम के कुछ बच्चे एक छोटी सी बाल्टी से फुटबॉल खेल रहे हैं.. जिसके बाद हुआ कुछ यूं कि अपने दोस्तों के साथ मिलकर विजय साहब ने एक टूर्नामेंट का आयोजन कराया.. जिसमें इनकी कोशिश थी कि ज्यादा से ज्यादा स्लम के बच्चे शामिल हों..

कुछ साल बाद नागपुर से 9 किलोमीटर दूर एक एकेडमी शुरू की... जिसमें स्लम के बच्चों को फुटबॉल की कोचिंग दी जा सके.. अपने बेटे के साथ मिलकर साल 2007 में एक टीम तैयार की.. जिसे "इंडियन होमलेस टीम" कहा गया... और इस टीम को होमलेस वर्ल्ड कप के लिए ले गए... उन्होंने यह कारनामा कर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इंडिया का नाम रोशन किया.. इसके लिए विजय बरसे जी को कई तरह के सम्मान से नवाजा भी गया है.. 2012 में सचिन तेंदुलकर ने इन्हें "रियल हीरो" अवॉर्ड से सम्मानित किया.. और 2018 में विजय बरसे पर बायोपिक बनाने का अनाउसमेंट हुआ था.. उसी वक्त फिल्म का नाम "झुंड" तय किया गया.. फिल्म को डायरेक्ट कर रहे हैं ब्लॉकबस्टर मराठी फिल्म ‘सैरात’ के डायरेक्टर नागराज मंजुले..

No comments:

Please do not enter any spam link in the comment

People's Corner

[people][stack]

Travel corner

[travel][grids]

Movie Corner

[movie][btop]

Instagram Feed