खास आपके लिए

[latest][slideshow]

दिल्ली का दिल

अक्षरधाम

दिल्ली का दिल-अक्षरधाम

पहली बार दिल्ली आई थी..जॉब लग गई थी..घर ढूंढना था..किसी ने कहा कि अक्षरधाम के पास देख लो... तो नाम सुनकर ही दिल ने कहा एक बार देखना तो चाहिए...तो निकल पड़े दिल्ली के दिल में बसने वाले अक्षरधाम मंदिर की ओर... कैब से बाहर की ओर नजर गई... तो देखा कि संस्कृति और शिल्पकला का एक सुंदर नमूना दूर से ही चमकता दिखाई दे रहा था...और जब पास गई तो बस देखती रह गई... बेहद खूबसूरत था वो. फिर बस मन में ठान लिया के यहीं रहना है...सोचा कि रोजाना ऑफिस आते-जाते जब आंखों को सुकून देने वाले इस मंदिर को देखुंगी तो दिन अच्छा जाएगा... इस मंदिर के बारे में मैने जानने की भी कोशिश की....कुछ बातें आप भी जान लीजिए.. और नहीं गए तो एक बार घूम आईए....


इस मंदिर में आध्यात्मिकता की झलक देखने को मिलती है.. एक आंकड़े के मुताबिक इस मंदिर में हर साल करीब दस लाख से ज्यादा पर्यटक दर्शन करने आते हैं..और मंदिर को बनाते वक्त वास्तु शास्त्र की बारीकियों का भी ध्यान रखा गया है...स्वामीनारायण का ये मंदिर भारत की 10 हजार साल पुरानी संस्कृति की खूबसूरती को बयां करता है...अक्षरधाम मंदिर को गुलाबी, सफेद संगमरमर और बलुआ पत्थरों के मिश्रण से बनाया गया है… इस मंदिर को बनाने में स्टील, लोहे और कंक्रीट का इस्तेमाल नहीं किया गया… मंदिर को बनाने में लगभग पांच साल का समय लगा था… करीब 100 एकड़ भूमि में फैले इस मंदिर को 11 हजार से ज्यादा कारीगरों की मदद से बनाया गया….


No comments:

Please do not enter any spam link in the comment

People's Corner

[people][stack]

Travel corner

[travel][grids]

Movie Corner

[movie][btop]

Instagram Feed